छेड़खानी का आरोप लगाकर लोगों ने की पिटाई

सीवान : थाना क्षेत्र के भगवानपुर गांव के महंथ पर छेड़खानी का आरोप लगाते हुए स्थानीय लोगों द्वारा महंथ की पिटाई कर दी गई. घायल महंथ बाल योगेश्वर हरनाम पूरी (65) बताया जाता है. इस मामले में पीड़िता ने थाने में आवेदन देकर इसकी शिकायत की है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार एक लड़की मंदिर परिसर में स्थित सरकारी चापाकल से पानी भरने गई थी. इसी बीच में स्थानीय नागा बाबा ने लड़की को पकड़कर मंदिर की ओर ले जाने का प्रयास करने लगे. उसके शोर मचाने पर आसपास के लोग आ गए तब नागा बाबा ने लड़की को छोड़ दिया. नागा बाबा के साथ स्थानीय लोगों ने मारपीट भी किया, जिससे नागा बाबा का सर फूट गया.

a

नागा बाबा ने बताया कि वे सुबह शौच करने के बाद टहल रहे थे, तभी इतने में ही गांव के लोग षड्यंत्र करके मुझे मारने-पीटने लगे और एक लड़की को भी वे लोग साथ में लाए थे. स्थानीय थाने में लड़की ने आवेदन भी दे दिया है. थानाध्यक्ष मो. अकबर ने बताया कि मामले की छानबीन चल रही है. बता दें कि भगवानपुर मठ का विवादों से गहरा संबंध है. भगवानपुर मठ के ज़मीन को लेकर अक्सर मारपीट व ग्रामीणों द्वारा अवैध कब्जे का प्रयास भी किया गया है.

पूर्व महंत से लेकर वर्तमान महंत नागा बाबा से भी ग्रामीणों व समिति के लोगों से विवाद होता रहता है. नागा बाबा जहां अपने को भगवानपुर मठ का मठाधीश कहते हैं वहीं समिति का कहना है कि वे अभी सिर्फ बतौर पुजारी रहते हैं.

मठाधीश गंभीर, सीवान रेफर
ग्रामीणों द्वार मारपीट करने के कारण नागाबाबा के सर में काफी चोट आ गई है, जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. सर पर गंभीर छोटे होने कारण चिकित्सकों  ने उन्हें सिवान सदर अस्पताल रेफर कर दिया.

महिला थाना ने की मामले का जांच लड़की का लिया बयान
महिला थाना ने घटना की सूचना मिलते ही आरोपित से पूछताछ किया और जहां घटना हुई उस जगह का भी निरीक्षण किया. महिला थाना प्रभारी पूनम कुमारी ने लड़की से भी गहन पूछताछ की और उसके बाद आरोपित मठाधीश से आकर अस्पताल में पूछताछ किया, इसके बाद लड़की द्वारा दिए आवेदन के आधार पर जांच किया. दूसरी तरफ से  मठाधीश के द्वारा भी कई लोगों पर मारपीट व जबरन पैसा लूटने की बात कही जा रही है. गुठनी थाना प्रभारी मो. अकबर ने बताया कि आवेदन मिला है. पुलिस जांच कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *